लक्ष्मीकांत-प्यारेलाल और अभिनेता / अभिनेत्री की सिग्नेचर ट्यून्स (सांकेतिक धुने)

लक्ष्मीकांत-प्यारेलाल और अभिनेता / अभिनेत्री की सिग्नेचर ट्यून्स (सांकेतिक धुने) 

संगीत निर्देशक लक्ष्मीकांत-प्यारेलाल ने ऐसे कई लोकप्रिय गीतों की रचना की है, जिससे फिल्मों को हिट होने के साथ-साथ फिल्म अभिनेताओं / अभिनेत्रियों की लोकप्रियता में वृद्धि हुई है।

1969 में “दो रास्ते” के लक्ष्मीकांत-प्यारेलाल जादुई सुपरहिट गीत, ‘बिंदिया चमके गी ‘ ने मुमताज को नाम और प्रसिद्धि के साथ-साथ ‘स्टार’ का दर्जा दिया। उनकी लोकप्रियता चार्ट को “खिलोना”, 1970 के गाने ‘सनम तू बेवफा के’ और फिल्म “लोफर” 1973 के ‘कोई शहरी बाबू‘ के माध्यम से और बढ़ावा मिला।

इसी तरह, लक्ष्मीकांत-प्यारेलाल संगीत ने 1987 में “मिस्टर इंडिया” से श्रीदेवीहवा हवाई‘ और 1988 में “तेज़ाब” से माधुरी दीक्षितएक दो तीन’ के लिए भी इसी तरह की सफलता हासिल की। ​​इतना ही नहीं, इन गीतों के गायिका  कविता कृष्णमूर्ति और अलका याग्निक  को क्रमशः गायकों के रूप में पहचान मिली।

जितेंद्र संगीतमय हिट फिल्म “फर्ज”, 1967 की सफलता के माध्यम से ‘स्टार’ बन गए, विशेष रूप से गीत ‘मस्त बहारों का में आशिक’

लक्ष्मीकांत-प्यारेलाल ने अमिताभ बच्चन, राजेश खन्ना, धर्मेंद्र, ऋषि कपूर, जीतेन्द्र , अनिल कपूर, जैकी श्रॉफ और कई के लिए अधिकतम  सुपरहिट गाने कंपोज़ किये हैं। 

लक्ष्मीकांत-प्यारेलाल ने  मुमताज़, हेमा मालिनी, रेखा, शर्मीला टैगोर, राखी, जया बच्चन, हेलेन, तनूजा, आशा पारेख, श्रीदेवी, माधुरी दीक्षित, मौसमी चटर्जी,,इत्यादि के लिए अधिकतम  सुपरहिट गाने बनाये है. 

चंकी पांडे, (1988 में “तेज़ाब” से ‘सो गया ये जहान‘), विजय अरोड़ा (‘गौतम गोविंदा’ 1977 में  ‘एक रितु  आए‘), जावेद जाफरी (‘बोल बेबी बोल रॉक-एन‘) जैसे कम जाने-माने अभिनेता -रोल’ “मेरी जंग”, 1984) और शेखर सुमन (“उत्सव”, 1984 से ‘सांज ढले‘) को लक्ष्मीकांत-प्यारेलाल द्वारा रचित सिग्नेचर धुनें मिलीं।

लक्ष्मी छाया जैसी नर्तकी सह कम जानी-पहचानी अभिनेत्रियों को ‘मेरा गांव मेरा देश’ 1971 के ‘मार दिया जाए के छोड़ दिया जाय’, ‘हाय शर्माऊ किस किस को बताउ’ और ‘आया आया अटरिया  पे कोई चोर‘ जैसे गानों के लिए जाना जाता है। ‘राजा और रैंक’ 1968 से ‘मेरा नाम है चमेली‘ के लिए मशहूर कुमकुम, ‘मेरे लाल’ से इंद्राणी मुखर्जी पायल की झंकार रस्ते रस्ते‘, 1966 आदि को ये सुपरहिट गाने मिल चुके हैं.

विभिन्न अभिनेताओं / अभिनेत्रियों के लिए लक्ष्मीकांत-प्यारेलाल द्वारा रचित सिग्नेचर ट्यून्स, गानों की सूची। इन गानों ने अभिनेता/अभिनेत्री को और अधिक लोकप्रिय बना दिया।

अमिताभ बच्चन-

आदमी जो कहता है (मजबूर, 1974)

माई नेम इज एंथनी (अमर अकबर एंथनी, 1977)

बने चाहे  दुश्मन (दोस्ताना, 1980)

जॉन जानी जनार्दन (नासीब, 1981)

गोरी का साजन की गोरी (आखिरी रास्ता, 1987)

जुम्मा चुम्मा दे दे (एचयूएम, 1990)

तू मुजे कुबुल (खुदा गवाह, 1991)

अनिल कपूर-

वन टू का फोर माई नेम इज लखन (राम लखन, 1987)।

जिंदगी की यही रीत है (एमआर इंडिया, 1987)

अरुणा ईरानी –

ऐ फासा (बॉबी, 1973)

पंडितजी मेरे मारने के बाद (रोटी कपड़ा और मकान, 1974)

बिंदु –

दर्द-ए-दिल बढ़ता जाए (बुनियाद, 1972)

हंगामा हो गया। (अनहोनी, 1973)

बिस्वजीत-

नाज़र  ना लग जाए, (नाइट इन लंदन, 1967)

अकेला हूं मैं हमसफर (जाल, 1967)

आशा पारेख –

सुनो सजना पपीहे  ने ( आए दिन बहार के, 1966)

तेरे कारन  मेरे साजन (आन मिलो सजना, 1970)

सोना लै  जा रे (मेरा गांव मेरा देश, 1971)

मैं तुलसी तेरे आंगन की (मैं तुलसी तेरे आंगन की, 1979)

बबीता –

हम तो तेरे आशिक (फ़र्ज़  1967),

बार बार दिन ये आए.. (फ़र्ज़, 1967)

शीशी भरी गुलाब की (जीत 1971)

बेला बोस –

ओ दिलवालो साज़ – ए – दिल (लुटेरा, 1965)

चंकी पांडे –

सो गया ये जहां सो गया (तेजाब, 1987)

धर्मेंद्र –

मेरे दुश्मन तू मेरी (आए दिन बहार के, 1966)

छलकाए जाम (मेरे हमदम मेरे दोस्त, 1968)

हुई शाम उनका खयाल आ गया (मेरे हमदम मेरे दोस्त, 1968)

ना जा कहीं अब ना जा (मेरे हमदम मेरे दोस्त, 1968)

साथिया नहीं जाना के जीना लगे (आया सावन जुम के, 1969)

कुछ कहता है ये सावन (मेरा गांव मेरा देश, 1971)

जानी ओ जानी (राजा जानी, 1972)

आज मौसम बड़ा बेइमान है (लोफर, 1973)

गाड़ी बुला रही है (दोस्त, 1974)

मैं जाट यमला पगला (प्रतिज्ञा, 1976)

आजा तेरी याद आए (चरस, 1976)

ओ मेरी महबूबा (धरम वीर, 1977)

देव आनंद –

के मैं आया हूं (अमीर गरीब, 1974).. सैक्सोफोन का उत्कृष्ट उपयोग।

डिंपल कपाड़िया –

हम तुम एक कमरे/

झूठ बोले (बॉबी, 1973)

हेमा मालिनी-

हे घट सवारी (अभिनेत्री, 1970)

शराफत छोड़ दी मैंने (शराफत, 1970)

एबीसीडी छोडो (राजा जानी, 1972)

आजा तेरी याद आई (चरस, 1976)

ड्रीम गर्ल ड्रीम गर्ल, (ड्रीम गर्ल, 1977)

जिंदगी ना टूटी लड़ी (क्रांति, 1981)

मेरे नसीब में तू है (नसीब, 1982)

हेलेन –

आ जान-ए-जा आ मेरा ये हुस्न जवान (INTQAAM, 1969)

मुझे देखे कोई दास्तान हौं (लुटेरा, 1965)

मीरा नाम है जमीला (लंदन में रात, 1967)

ऊई मां ऊई मा ये क्या हो गया (पारसमणी, 1963)

हम प्यार किए जाएंगे (आया तूफ़ान, 1964)

मेघवा गगन बीच झांके (हरिश्चंद्र तारामती 1963)

इंद्राणी मुखर्जी

पायल की झंकार रस्ते रस्ते (मेरे लाल, 1966)। हारमोनियम पर सबसे अच्छा गीत

जैकी श्रॉफ –

तू मेरा जानू है (हीरो, 1983)

जया भादुरी –

पत्ता पत्ता बूटा बूटा (एक नज़र, 1972)

पहले सौ बार इधर (एक नज़र, 1972)

हमी करे कोई सूरत (ईके नज़र, 1972)

शहनाई बाजे ना बजे (शोर, 1972)

जावेद जाफरी

बोल बेबी बोल रॉक-एन-रोल (मेरी जंग, 1984)

जीतेंद्र –

मस्त बहारों का मैं आशिक (फ़र्ज़  1967)

बार बार दिन ये आए (फ़र्ज़, 1967)

जे हम तुम चोरी से (धरती कहे पुकार के, 1968)

बड़ी मस्तानी है मेरी महबूबा (जीने की राह, 1969)

हाय रे ही निंद नहीं आया (हमजोली, 1971)

दिल की बात दिल ही जाने (रूप तेरा मस्ताना, 1972)

जयाप्रदा –

डफली वाले (सरगम, 1977)

जयललिता (पूर्व तमिलनाडु सीएम) –

जागी बदन मैं ज्वाला (ईज़्ज़त , 1969).. मन को झकझोर देने वाली लय

जॉय मुखर्जी –

बड़े मियां दीवाने ऐसे ना बनो (शागिर्द , 1967)

दुनिया पागल है (शागिर्द, 1967)

कमल हासन –

तेरे मेरे बीच में (एक दूजे के लिए, 1981)

किमी काटकर-

जुम्मा चुम्मा दे दे (हम  1991)

किशोर कुमार – (अभिनेता किशोर कुमार पर फिल्माए गए गीत)

मेरे महबूब क़यामत होगी (मिस्टर एक्स इन बॉम्बे , 1964)

अजनबी तुम जाने पहचाने से (हम सब उस्ताद है, 1965)

प्यार बनते चलो (हम सब उस्ताद है, 1965)

सुनो जाना सुनो जाना (हम सब उस्ताद है, 1965)

ये दर्द भरा अफसाना (श्रीमान फंटुश  1965)

दिन जवानी के बार बार (प्यार किया जा, 1966)

कुमकुम-

मेरा नाम है चमेली … (राजा और रैंक, 1968)

लक्ष्मी छाया –

मार दिया जाए के छोड़ दिया जाए

हायशरमऊ किस किस को बता

आया आया अतरिय्या पे कोई चोर (सभी मेरा गांव मेरा देश से, 1971)

लीना चन्दावरकर-

ढल गया दिन हो गई शाम (हमजोली, 1971)

जाने क्यों लोग मोहब्बत किया कराते  है। (मेहबूब की मेहंदी 1971)

गम का फसाना (मनचली, 1973)

मनोज कुमार

तौबा ये मतवाली चल (पत्थर के सनम, 1967)

एक प्यार का नगमा है (शोर, 1972)

माधुरी दिक्षित –

एक दो तीन चार (तेज़ाब, 1987),

चोली के पीछे (खल-नायक, 1993)

माला सिन्हा –

नींद कभी रहती थी आंखें मैं (आसरा, 1966)

मेरी जिंदगी के चिराग को (जाल, 1967)

महमूद –

महबूबा महबूबा (साधु और शैतान, 1969)

मनीषा कोइराला –

इलू इलू (सौदागर, 1992),

मौसमी चटर्जी

हाय हाय एक लडाका मुजाको खत (कच्चे धागे, 1973)

मेघा रे मेघा रे (प्यासा सावन)।

मुमताज –

बिंदिया चमकेगी (दो रास्ते, 1969)

दिल ने दिल को पुकारा (दो रास्ते, 1969)

सनम तू बेवफा के नाम से (खिलोना, 1971)

कोई शहरी बाबू (लोफर, 1974)

नंदा –

एक प्यार का नगमा है (शोर, 1971)

जारे कारे बदरा (धरती कहे पुकार के, 1969)

नूतन

सावन का माहा (मिलन, 1967)

पद्मिनी कोल्हापुरे –

यशोमती मैया से (सत्यम शिवम सुंदरम, 1977)

ये गलियां ये चौबारा (प्रेम रोग)

प्राण  –

दारू की बॉटल मैं (मजबूर, 1974)

प्रेमनाथ –

जीवन चला ने का नाम (शोर, 1972)

राखी –

झिलमिल सितारों का आंगन होगा (जीवन मृत्यु, 1971)

रेखा-

मन क्यों बहका रे आधी रात को (उत्सव, 1984)

दूर ना रहे कोई (कर्तव्य, 1978)

राजेश खन्ना –

मेरे नसीब मैं, (दो रास्ते, 1969)

ये रेशमी झूले (दो रास्ते, 1969)

दिल ने दिल को पुकारा (दो रास्ते, 1969)

अच्छा तो हम चलते हैं। (आन मिलो सजना, 1970)

वेद तेरा वादा (दुशमन, 1971)

ये जो चिलमन है (महबूब की मेहंदी, 1971)

मेरे दीवानेपन की (महबूब की मेहंदी, 1971)

चल चल मेरे साथी (हाथी मेरे साथी, 1971)

मेरे दिल में आज क्या है (दाग , 1973)

ये जो पब्लिक है (रोटी, 1974)

आपके अनुरोध पे (अनुरोध, 1977)

अकेला गया हान मैं (राजपूत, 1981)

रति अग्निहोत्री –

तेरे मेरे बीच में (एक दूजे के लिए, 1981)

रीना रॉय –

तेरे संग प्यार (नागिन, 1976),

मेरी सांसो  को जो (बदलते रिश्ते, 1978)

शीशा हो या दिल हो (आशा, 1980)

ऋषि कपूर –

मैं शायर तो नहीं (बॉबी, 1973),

पर्दा है परदा है (अमर अकबर एंथनी, 1977)

डफली वाले (सरगम, 1979),

ओम शांति ओम (कर्ज़, 1980)

दर्द – ए – दिल (कर्ज़, 1980)

साधना

मैं देख जिस और सखी रे सामने मेरे सांवरिया (अनीता, 1967)

ना बाबा नबा (अनीता, 1967)

कैसे रहूं चुप ??? (इंतकाम, 1969)

सुनिए जरा बैठिए ना हम आप के (गीता मेरा नाम, 1975)

शत्रुघ्न सिन्हा

बने चाह दुश्मन (दोस्ताना 1980)

चोर मच गया शोर (बदला 1974)

शर्मिला टैगोर – 

चलो सजना जहान तक (मेरे हमदम मेरे दोस्त, 1969)

दो दिन की जिंदगी (सत्यकम, 1970)

ये कैसा घुम सजना (मेरे सजना, 1970)

एक चेहरे पे केई (डीएएजी, 1973)

शेखर सुमन

सांझ ढाले गगन तले  (उत्सव, 1984)

सायरा बानो –

दिल विल प्यार व्यार (SHAGIRD, 1967)

वो है जरा खफा खफा (SHAGIRD, 1967)

रूठा है तो मन लेंगे (जवार भाटा, 1974)

संजीव कुमार –

ओ फिरकी वाली तू कल फिर आना ( राजा और रैंक, 1968)

शादी के लिए रजा मंद कर ली (देवी, 1968)

खिलोना जान कर (खिलोना, 1971)

शशि कपूर

फूल बन जाउंगा शार ये है (प्यार किया जा, 1966)

सा रे गा मा पा (अभिनेत्री, 1971)

श्रीदेवी

मैं तेरी दुश्मन (नगीना 1986)

हवा हवाई (एमआर इंडिया, 1987)

किसी के हाथ ना आएगी (चालबाज, 1989)

सुनील दत्त –

सावन का महीना  (मिलन, 1967)

मुबारक हो सबको (मिलन, 1967)

राम करे ऐसा हो जाए (मिलन, 1967)

संजय दत्त-

नायक नहीं खलनायक हूं मैं (खलनायक 1993)

तनुजा –

आप मुझे अच्छे लगने लगे (जेन की राह, 1969)

रोज़ शाम आती थी (इम्तिहान, 1974)

विनोद खन्ना –

रुक जाना नहीं (इम्तिहान, 1974)

विजय अरोड़ा –

एक रितु आए एक रितु जाए (गौतम गोविंदा, 1979)

ज़ीनत अमान –

हाय हाय ये मजबूरी (रोटी कपड़ा और मकान, 1974)

मैं ना भुलुंगा (रोटी कपड़ा और मकान, 1974)

सत्यम शिवम सुंदरम (सत्यम शिवम सुंदरम, 1977)

सूची का कोई अंत नहीं है।

अजय पौंडरिक 

वड़ोदरा

By Ajay Poundarik

I am a Mechanical Engineering Graduate. Boiler Proficiency Engineer. Deeply In Love With Hindi Film Music When I Was Eight Years Of Age, Since 1963. I Have A Liking For All Contemporary Music Directors Compositions. I Am A Fan Of Laxmikant-Pyarelal Music. I Have Grown-Up By Listening To Laxmikant-Pyarelal Music. I Like Test Cricket Only. Worked In The Capacity Of General Manager For The Fields Of Project Implementation, Facility Management, Construction Management and Plant Maintenance In INDIA, NIGERIA for Twenty Years & AFGHANISTAN One Year.

1 comment

Leave a comment

Fill in your details below or click an icon to log in:

WordPress.com Logo

You are commenting using your WordPress.com account. Log Out /  Change )

Twitter picture

You are commenting using your Twitter account. Log Out /  Change )

Facebook photo

You are commenting using your Facebook account. Log Out /  Change )

Connecting to %s

%d bloggers like this: